दादी मां के ये घरेलु नुस्खे अपनाएं, और दवाओं से छुटकारा पाएं

मेरी भी आदत कुछ ऐसी ही है। थोड़ा सा सिर दर्द या खांसी-जुकाम होने पर मैं तुरंत दवा खा लेता हूं। इस बात पर मेरी दादी हमेशा मुझे टोकती है कि बेटा ऐसा दवा खाना सही नहीं है। अभी तो तुझे राहत मिल जायेगी लेकिन भविष्‍य में यह तेरी सेहत के लिए ठीक नहीं है। लेकिन मैं भी क्‍या करूं व्‍यस्‍त होने के कारण हेल्‍थ से जुड़ी इन छोटी-छोटी दिक्कतों से निपटने के लिए मुझे दवा लेना पड़ता है।
लेकिन इस बारे में मेरी दादी मां का कहना है कि रोजमर्रा की छोटी-मोटी समस्‍याओं से निपटने के लिए दवा की नहीं बल्कि घरेलू नुस्‍खों को अपनाने की जरूरत है। वह कहती है कि इन घरेलू नुस्‍खों अपनाकर आप दवाओं से कोसों दूर रह सकते हैं। वह कहती है कि पहले के समय में छोटी-मोटी बीमारी का इलाज घर पर ही कर लिया जाता था। हमारे घर की रसोई में ऐसी बहुत सी चीजें उपलब्‍ध है जिनमें औषधीय गुण होते हैं। इन सदियों पुराने नुस्खों का सेहत को कोई नुकसान नहीं होता है और ये उपाय सस्‍ते और असरदार होते हैं। आइए मेरे साथ-साथ आप भी जानिए कि दादी मां किन बीमारियों का इलाज किन घरेलू नुस्‍खे से करने के लिए कहती है।

  • कब्‍ज के लिए अंजीर:-  अगर आपको कब्‍ज की समस्‍या रहती है तो अंजीर का सेवन करें। इसके लिए एक अंजीर को रात में थोड़े से पानी में भिगो दें। सुबह इसे अच्‍छे से चबाकर खा लें और इसके पानी को पी जाएं। कुछ ही दिनों में आपकी समस्‍या दूर हो जायेगी। अंजीर में फाइबर बहुत अधिक मात्रा में पाया जाता है जो पेट को साफ करने में मदद करता है।
  • सिर दर्द को तुरंत छूंमतर करें गाय का घी:-  सिर दर्द होने पर हम तुरंत पेनकिलर ले लेते हैं। लेकिन अगर हम आपको कहें कि दादी मां का कहना है कि सिर दर्द होने पर अगर नाक में शुद्ध गाय के घी की कुछ बूंदे डाल ली जाएं तो सिर दर्द दूर हो जाता है। तो शायद आपको यकीन नहीं होगा, लेकिन यह सच है। अगर आपको सिरदर्द की समस्‍या लगातार रहती है तो रोजाना अपनी नाक में गाय की घी की 2-2 बूंदे डालें। कुछ ही दिनों में समस्‍या हमेशा के लिए दूर हो जायेगी।
  • मस्‍सों का रामबाण उपाय है प्‍याज:- कुछ लोग मस्सों को हटाने के लिए उसे कटवा देते हैं या घर पर ही खुद से काट व फोड़ लेते हैं। लेकिन ऐसा कभी नहीं करना चाहिए। क्‍योंकि इसका इलाज आपकी रसोई में ही उपलब्‍ध है। जी हां आपकी रसोई में उपलब्‍ध प्‍याज मस्‍सों का रामबाण इलाज है। प्याज के रस से मस्सों का वायरस मर जाता है और मस्से जड़ से खत्म हो जाते हैं। मस्सों को हटाने के लिए लगातर बीस से तीस दिनों तक प्याज के रस को मस्सों पर लगाएं। या जब भी समय मिले तब प्याज को काटकर मस्सों पर रगड़ें। दिन में दो-तीन बार ऐसा करें।
  • खांसी के लिये अदरक या मुलेठी:- गले में खराश या सूखी खांसी होने पर पिसी हुई अदरक में गुड़ और घी मिलाकर खाएं। गुड़ और घी के स्थान पर शहद का प्रयोग भी किया जा सकता है। आपको आराम मिलेगा। या रात को सोते समय मुलेठी के कुछ टुकडों को मुख में रखकर कुछ देर चबाते रहे। फिर वैसे ही मुंह में रखकर सो जाएं। सुबह तक गला साफ हो जायेगा और गले के दर्द और सूजन में भी आराम मिलेगा।
  • फटे होठों का इलाज सरसों का तेल:- फटे होठों की समस्‍या से बचने के लिए आपको होठों पर कुछ भी लगाने की जरूरत नहीं है, बल्कि नाभि में रोजाना कुछ बूंदें सरसों का तेल लगाने से होंठ नहीं फटते और फटे हुए होंठ मुलायम और सुन्दर हो जाते है। साथ ही आंखों की खुजली और खुश्की भी हमेशा के लिए दूर हो जाती है।

तो देर किस बात की अगर दवाओं से दूरी बनाकर रखना चाहते हो तो आज से ही इन घरेलू नुस्‍खों को अपनाएं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *